लाल किताब के सिद्ध टोटके

लाल किताब के सिद्ध टोटके , ज्योतिष शास्त्र के अंतर्गत अनेक विद्याएं प्रचलित हैं, जिनकी सहायता से किसी भी व्यक्ति के विषय में कोई भी जानकारी प्राप्त की जा सकती है और सभी समस्याओं से मुक्ति पाने के उपाय प्राप्त किए जा सकते हैं। ऐसी ही एक विद्या है लाल किताब।

लाल किताब के सिद्ध टोटके
लाल किताब के सिद्ध टोटके

लाल किताब में अनेक प्रकार के अचूक उपाय दिए गए हैं जिनसे जीवन की सभी समस्याओं और दुखों से छुटकारा पाया जा सकता है, जैसेपैसों की समस्या, निजी समस्या, ग्रह दोष आदि दूर किए जा सकते हैं। लाल किताब में दिए गए उपायों को करने से जल्दी ही शुभ फल प्राप्त होते हैं।

लाल किताब के उपाय जानने के लिए आपको अपने पीड़ित ग्रह और उसके भाव की जानकी होना आवश्यक है। जैसे यदि किसी व्यक्ति का सूर्य ग्रह चैथे भाव में है और अशुभ फल दे रहा है तो लालच उसकी मति भ्रष्ट कर देगा और वह जुएं या किसी अन्य चीज में अपना घर तक गंवा सकता है। लाल किताब में ऐसे व्यक्तियों के लिए सूर्य ग्रह को शांत करने के उपाय दिए गए हैं।

लाल किताब में ग्रहों और उनके भावों के आधार पर की गई गणना के अनुसार उनसे होने वाली हानियों से बचाव के उपाय बताए गए हैं। लाल किताब के उपाय व्यक्ति की लाल किताब पर आधारित कुंडली के अनुसार ही बताए जा सकते हैं, नहीं तो यह उपाय दुष्परिणाम भी दे सकते हैं। यदि आपके पास लाल किताब के अनुसार बनी कुंडली है तो आप अपना भविष्यफल जान सकते और अपने जीवन में रही कठिनाइयों को दूर कर सकते हैं। लाल किताब के उपाय और टोटके बेहद आसान होते हैं जिन्हें कोई भी आजमा सकता है, जैसे

  • प्रतिदिन सुबह उठकर सबसे पहले गृहलक्ष्मी यदि एक लोटा पानी घर के मुख्य द्वार पर डालती है तो इससे घर में लक्ष्मी के आगमन का रास्ता खुल जाता है।
  • यदि कन्या की शादी में कोई रूकावट रही हो तो पूजा वाले 5 नारियल लें। भगवान शिव की प्रतिमा या फोटो के आगे रख करऊं श्रीं वर प्रदाय श्री नामःमंत्र का पांच माला जाप करें फिर वो पांचों नारियल शिव जी के मंदिर में चढा दें। विवाह में आने वाली समस्त बाधाएँ स्वयं दूर होती जांयगी !
  • महीने में 2 बार किसी भी दिन घर में उपला जलाकर लोबान गूगल की धूनी देने से घर में ऊपरी हवा का बचाव रहता है तथा बीमारी दूर होती है।
  • वर्तमान समय में प्रत्येक व्यक्ति किसी किसी कारण से परेशान है। कारण कोई भी हो आप एक तांबे के पात्र में जल भर कर उसमें थोडा सा लाल चंदन मिला दें। उस पात्र को सिरहाने रख कर सो जाएँ, प्रातः उस जल को तुलसी के पौधे पर चढा दें। धीरेधीरे प्रत्येक समस्या दूर हो जाएगी।
  • घर में तिजोरी का मुंह उत्तर की तरफ रखें, ऐसा करने से घर में लक्ष्मी बढ़ती है।
  • घर के किसी भी कार्य के लिए निकलते समय पहले विपरीत दिशा में 4 चलें, इसके बाद कार्य पर चले जाएं, कार्य जरूर बनेगा।
  • अगर आप चाहते हैं कि घर में सुखशांति बनी रहे तो हर एक अमावस्या वाले दिन घर की अच्छे से सफाई करें और कच्ची लस्सी का छिंटा देकर 5 अगरबत्ती जलाइए।?
  • यदि आपको कारोबार में नुकसान हो रहा हो या कार्यक्षेत्र में किसी से अनबन हो, तो आप अपने वजन के बराबर कच्चा कोयला लेकर जल प्रवाह कर दें, अवश्य लाभ होगा।
  • किसी रोज संध्याकाल में गाय का कच्चा दूध मिट्टी के किसी बर्तन में भरकर बाएं हाथ से नजर लगे बच्चे के सर से सात बार उतारकर चैराहे पर रख आएं या किसी कुत्ते को पिला दें, नजर दोष दूर हो जाएगा।
  • यदि आप अपने जीवन में समृद्धि का वास चाहते हैं तो इसके लिए अपने घर या दुकान में उत्तर या उत्तरपूर्व की ओर एक अलंकारिक फव्वारा या एक मछलीघर रखें, जिसमें 8 सुनहरी एक काली मछ्ली हो रखें। यदि कोई मछली मर जाए तो उसको निकाल कर नई मछली लाकर उसमें डाल दें।
  • यदि आपके घर में पानी की टंकी अग्नि कोण में रखी हो, तो घर में कर्ज बीमारी कभी समाप्त नहीं होती है। इससे बचने के लिए इस कोने में एक लाल बल्ब जला दें, जो सदैव जलता रहे।
  • आप जो भी धन मेहनत से कमाते हैं यदि धन उससे अधिक खर्च हो रहा हो अर्थात घर में धन की बरकत हो तो ध्यान दें कि आपके घर में कोई नल टपकता हो। इसके साथ ही आग पर रखा दूध या चाय उबलकर बाहर नहीं आनी चाहिए, अन्यथा वरना आमदनी से ज्यादा खर्च होने की सम्भावना रह्ती है।
  • यदि आप सदैव आर्थिक समस्या से परेशान रहते हैं तो इसके लिए आप 21 शुक्रवार 9 वर्ष से कम आयु की 5 कन्यायों को खीर मिश्री का प्रसाद बांटें।
  • मानसिक परेशानी दूर करने के लिए प्रतिदिन हनुमान जी का पूजन करें और हनुमान चालीसा का पाठ करें प्रत्येक शनिवार को शनि को तेल चढाएँ। अपनी पहनी हुई एक जोडी चप्पल भी किसी गरीब को एक बार अवश्य दान करें।
  • व्यापार बढाने के लिए शुक्ल पक्ष में किसी भी दिन अपनी फैक्ट्री या दुकान के दरवाजे के दोनों तरफ बाहर की ओर थोडा सा गेहूं का आटा रख दें। ध्यान रहे ऐसा करते हुए आपको कोई देखे नही !
  • यदि आपको निरंतर बुखार रहा हो और सभी दवा बेअसर हों, तो आक की जड लेकर उसे किसी कपडे में कस कर बांध लें। फिर उस कपडे को रोगी के कान से बांध दें। बुखार उतर जायगा।
  • यदि आपको अपनी नौकरी जाने का खतरा हो या ट्रांसफर रूकवाना हो तो पांच ग्राम डली वाला सुरमा लें। उसे किसी वीरान जगह पर गाड दें। ध्यान रहे कि जिस औजार से आपने जमीन खोदी है उस औजार को वापिस लाएँ। उसे वहीं फेंक दें दूसरी बात जो ध्यान रखने वाली है वो यह है कि सुरमा डली वाला हो और एक ही डली लगभग 5 ग्राम की हो। एक से अधिक डली नहीं होनी चाहिए।
  • यदि आपके प्रेम विवाह में रुकावटें रही हैं तो शुक्ल पक्ष के गुरूवार से शुरू करके विष्णु और लक्ष्मी मां की प्रतिमा या फोटो के आगेऊं लक्ष्मी नारायणाय नमःमंत्र का प्रतिदिन स्फटिक माला पर तीन माला जाप करें। इसे शुक्ल पक्ष के गुरूवार से ही आरंभ करें। तीन महीने तक हर गुरूवार को मंदिर में प्रशाद चढाएँ और विवाह की सफलता के लिए सच्चे मन से प्रार्थना करें।

 

[Total: 3    Average: 2.7/5]
Call Now Button
WhatsApp WhatsApp us