लक्ष्मी प्राप्ति के सरल अचूक उपाय

“ लक्ष्मी “ अर्थात् “ धन “..इसे कौन नहीं प्राप्त करना चाहता ? अमीर और अमीर होना चाहता है, और अधिक धन इकट्ठा करना चाहता है | गरीब की तो बात ही क्या ?.. उसे तो हर हालत में धन चाहिए ही होता है | वह जी तोड़ मेहनत करता है फिर भी मन मुताबिक फल की प्राप्ति नहीं होती | वह लक्ष्मी प्राप्ति के सरल उपाय सोचने लगता है |

लक्ष्मी प्राप्ति के सरल अचूक उपाय
लक्ष्मी प्राप्ति के सरल अचूक उपाय

अगर, ऐसा ही कुछ आपके साथ हो रहा है तो चलिए हम आपके लिए लेकर आए हैं ऐसे ही कुछ लक्ष्मी प्राप्ति के सरल उपाय जो आपके मन की मुराद पूरी करेंगे | यह उपाय हैं–

१) प्रत्येक बुधवार के दिन अपने खाने में हरे रंग की सामग्री जरूर खाएं | परंतु सावधान ! पीले रंग की कोई भी वस्तु को व्यवहार न करें |

२) गुरुवार के दिन पीले रंग की वस्तुओं का सेवन करें | परंतु, हरे रंग की वस्तु के सेवन से बचें |

३) अपने उपयोग करने वाले पर्स का रंग लाल रखें | इसमें साबुत चावल, एक कागज की पुड़िया में बांध कर रखें | इसके साथ ही साथ कौड़ी जो लक्ष्मी मां की प्रिय वस्तु है, उसे भी रखें | मां लक्ष्मी की कृपा आप पर बनी रहेगी |

४) अगर आप सर पर तेल लगा रहें हैं तो  तेल व्यवहार करने के बाद हाथों में लगे हुए तेल को अपने कलाइयों में या मुंह में या बाजू में न रगड़े |

५)  नोटों को गिनते समय उंगलियों को गीली करने के लिए थूक ना लगाएं | इससे लक्ष्मी आने में बाधा पैदा होती है |

६) पैरों को पानी से साफ करते हुए एक पैर से दूसरे को रगड़कर कभी भी ना धोएं |

७) झाड़ू को कभी भी खड़ी अवस्था में न रखें, उसे हमेशा सुलाकर रखें | उसे लांघे नहीं और न हीं उसे पैरों से छुएं | झाड़ू रखने का स्थान भी ऐसा होना चाहिए जिससे वह किसी को भी नजर ना आए |

८) अपने पूजा स्थान में हनुमान जी की तस्वीर लगाएं | तस्वीर ऐसी होनी चाहिए जिसमें वे उड़ रहे हों | इस तस्वीर की प्रत्येक दिन श्रद्धा सहित पूजा करें |

९) प्रत्येक महीने के पहले बुधवार को हरे रंग का साबुत मूंग ( पांच मुट्ठी ) ले | इसे नए कपड़े या रुमाल जो हरे रंग का हो, में बांधकर बहते हुए जल में विसर्जित करें |

१०) दाने ले गोलमिर्च ( कालीमिर्च ) के | अब इसे ७ बार अपने सर के ऊपर से घुमाएं | फिर किसी चौरास्ता या सुने जगह पर जाकर खड़े-खड़े ही १-१ दाने चारों दिशाओं में और पांचवां व अंतिम दाना आसमान की तरफ ऊपर फेंके | इसके बाद घर लौटें और सावधानी बरतें कि उस स्थान को छोड़ते समय पीछे न पलटे |

११) पीपल के पेड़ से एक पत्ता तोडे़ | शनिवार को अब इसे गंगा के जल से शुद्ध करें | दही से हल्दी को घोले | आप अपने अनामिका उंगली ( दाएं हाथ की ) से “ह्वीं“ शब्द लिखें | इसका धूप दीप से पूजन करें और अपने पर्स में रखें | हर शनिवार को यह पूजा करें और नए पत्ते को रखकर पुराने पत्ते को किसी बहते हुए जल में प्रवाहित करें |  धन प्राप्ति के टोटके में यह एक ऐसा टोटका है जिससे आपका बैग कभी भी खाली नहीं रहेगा |

१२) घर पोछने वाले पानी में एक चुटकी नमक डालकर  अगर घर पोछा जाए तो यह घर की दरिद्रता को दूर करने में अत्यंत सहायक सिद्ध होगा | लेकिन ध्यान रहे इस उपाय को गुरुवार के दिन ना किया जाए | १३)  धन प्राप्ति के अचूक उपाय में एक यह भी है– एक काँच की कटोरी ले | इसमें दो लौंग के साथ दो तीन चम्मच नमक डालकर अपने धन वाले स्थान में रखे |

१३) प्रत्येक गुरुवार को बेसन से बने हुए लड्डू  भगवान शंकर को  भोग लगाएं |

१४) अपने घर के  पूजावाले स्थान में सोने, चांदी या लकड़ी की बांसुरी स्थापित करें | ज्योतिष शास्त्र के अनुसार बांसुरी की स्थापना से लक्ष्मी की कृपा सदैव बनी रहती है |

१५) अपने  पूजा स्थान में नृत्यरत गणेश जी की प्रतिमा या तस्वीर को स्थान दें | प्रत्येक बुधवार को दूर्बा से उनकी अर्चना करें और लड्डू का भोग लगाएं |

१६) मां लक्ष्मी के साथ-साथ कुबेर देव की भी  तस्वीर या प्रतिमा लगाएं | कुबेर की स्थापना  उत्तर की तरफ करें |

१७)  अपने पूजा गृह में शंख को स्थान दें |

१८)  पीली वस्तुएं जैसे- चना, हल्दी, सोना इत्यादि हर बृहस्पतिवार को दान करें |

१९)  दिवाली की पूजा के बाद डमरु और शंख-ध्वनी करें | इससे लक्ष्मी का आगमन होता है |

२०) दीपावली में लक्ष्मी पूजन के वक्त पूजन में 11 कौड़िया भी लक्ष्मी मां पर अर्पित करें | दूसरे दिन कौड़ियों को लाल रंग के कपड़े या रुमाल में बांध कर तिजोरी के अंदर रख दें | २२) धन प्राप्ती का एक अचूक उपाय है-घर की सबसे बुजुर्ग महिला सूर्योदय के पूर्व एक ताम्रपात्र में स्वच्छ जल ले और घर के मुख्य द्वार पर छिड़के |

२१) प्रत्येक शुक्रवार को सुबह स्नानोपरांत धवल ( सफेद ) रंग का कपड़ा धारण करें | देवी लक्ष्मी के सामने भक्ति भाव से निम्न मंत्र का जाप करें –

“ क्षीरदायै धनदायै  बुद्धिदायै  नमो नमः

यशोदायै कीर्तिदायै धर्मादायै नमो नम:”

२२) चलिए ..अब हम आपको लक्ष्मी प्राप्ति के शाबर मंत्र को बताने जा रहे हैं | इस मंत्र को प्रयोग करने से देवी लक्ष्मी सदा ही आपपर कृपा बरसाती रहेगी | आपको कभी भी धन के अभाव का सामना नहीं करना पड़ेगा | मंत्र है–

“ॐ विष्णु प्रिया लक्ष्मी, शिव प्रिया सती से प्रकट हुई |

कामाक्षा भगवती आदि शक्ति, युगल मूर्ति अपार,

दोनों की प्रीति अमर, जाने संसार |

दुहाई कामाक्षा की |आय बढ़ा, व्यय घटा| दया कर माई |

ओम नमः विष्णु प्रियाय| ओम नमः शिव प्रियाय |

ओम नमः कामाक्षाय | ह्वीं ह्वीं श्री श्री फट् स्वाहा ||”

पूजन विधि–किसी भी मंगलवार को इस विधि का प्रारंभ करें | प्रातः काल स्नानोपरांत एक चौकी ले लकड़ी की | अब उसे गंगा जल से शुद्ध कर ऊपर लाल रंग का कपड़ा बिछा दे | इसके ऊपर लक्ष्मी मां की मूर्ति की स्थापना करें | फूल अर्पित करें | फल का भोग लगाएं, अगरबत्ती जलाएं | मिट्टी के पांच दिए ले और घी डालकर मुर्ती के आसपास जला दे | लक्ष्मी जी का तिलक करे सिंदूर से   | अब दिए गए मंत्र का ११०८ बार जाप करें | यह क्रिया ७ दिनों तक लगातार बिना रुके होनी चाहिए | साथ ही साथ ध्यान रहे हैं कि पूजन सामग्री रोज नई हो तथा ब्रम्हचर्य व्रत का पालन करें |

[Total: 6    Average: 4.3/5]
Call Now Button
WhatsApp chat